जब सपने हमारे हैं तो कोशिश भी हमारी ही होनी चाहिए

Bhagya ko or dusro ko dosh kyo dena?
Jab Sapne humare hai to koshish bhi humari hi honi chahiye.

 

भाग्य को और दूसरों को दोष क्यों देना
जब सपने हमारे हैं तो कोशिश भी हमारी ही होनी चाहिए

------------------------------------

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: