इंसान की वास्तविक हो जी धन नहीं बल्कि उसके विचार है

Insaan ki vastavik punji dhan nahi balki uske vichar hai,
kyoki dhan to khariddari me dusro ke paas chala jata hai,
lekin vichar apne paas hi rahte hai.

Acchi Bate

Acchi Bate – अच्छी बातें

इंसान की वास्तविक हो जी धन नहीं बल्कि उसके विचार है
क्योंकि धन तो खरीदारी में दूसरों के पास चले जाता है
लेकिन विचार अपने पास ही रहते हैं

------------------------------------

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: