स्वाभिमानी रहे अभिमानी नहीं

 kisi ka rasal svabhav uski kamjori nhi hota 
sansar me pani se saral kuch nhi hai, kintu 
uska bahav badi se badi chattaqn ke bhi tukade kar deta hai.
svabhimani rahe abhimani nhi.
किसी का सरल स्वभाव उसकी कमजोरी नहीं होता ।
संसार में पानी से सरल कुछ नहीं है, किंतु
उसका वह बड़ी से बड़ी चट्टान केवी टुकड़े कर देता है ।
स्वाभिमानी रहे अभिमानी नहीं

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: