वजूद सबका अपना-अपना..

 vajud sabka apna apna …
suraj ke samne dipak ka na shi, andhere ke samne bhut kuch hai

वजूद सबका अपना-अपना……
सूरज के सामने दीपक का ना सही, अंधेरे के सामने बहुत कुछ है

Leave a Reply

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: