जिंदगी सिक्के के दो पहलू की तरह है

 JINDAGI sikke ke do pahalu ki tarah hai, kbhi sukh to kbhi dukh.
jab sukh ho to ghamand mat krna or jab dukh ho to sabra jarur karna
जिंदगी सिक्के के दो पहलू की तरह है, कभी सुख तो कभी दुख ।
जब सुख हो तो घमंड मत करना और दुख हो तो सब लोग जरूर रखना ।

 

 

Leave a Reply

%d bloggers like this: