कोई इतना अमीर नहीं कि अपना पुराना वक्त खरीद सकें

 

पुराना वक्त

कोई इतना अमीर नहीं कि
अपना पुराना वक्त खरीद सकें,
कोई इतना गरीब नहीं कि
अपना आने वाला वक्त न बदल सके ।

 Koi itna amir nhi ki
apna purana waqt kharid sake,
koi itna garib nhi ki
apna ane vala waqt na badal sake

लोग बदलते हैं बदल जाने दो,
सब पीछे आएंगे अच्छा वक्त आने दो…

जिंदगी का मजा लेना सीखो,
वक्त तो तुम्हारे मजे लेता ही रहेगा.

कितना भी पकड़ लो,
फिसलता जरूर है,
यह वक्त है साहब,
बदलता जरूर है …

------------------------------------